Snack Video ban in india, चल रही एक्शन की तैयारी

भारत सरकार ने इस साल करीब 200 से अधिक चाइनीज एप्स पर प्रतिबंध लगाए हैं जिनमें टिकटॉक, पबजी और यूसी ब्राउजर जैसे लोकप्रिय एप शामिल हैं। प्रतिबंध के बाद चाइनीज एप्स के कुछ लाइट वर्जन भारत में काम कर रहे हैं। इसके अलावा कई एप्स ऐसे हैं जिन्हें नाम बदलकर भारत में लॉन्च कर दिया गया है और गौर करने वाली बात यह है कि ऐसे एप्स काफी वायरल हो रहे हैं।



इन्हीं एप्स में एक नाम Snack Video का है जिसे बैन हो चुके Kwai एप का नया अवतार माना जा रहा है। गूगल प्ले-स्टोर पर Snack Video टॉप ट्रेंडिंग में दिख रहा है और भारत में इसे 10 करोड़ से अधिक लोग इस्तेमाल कर रहे हैं। Snack Video एप की लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि आपके कॉन्टेक्ट में मौजूद कई लोगों के व्हाट्सएप स्टेटस में Snack Video के वीडियो दिख जाएंगे। Snack Video भी एक शॉर्ट वीडियो एप है जिसमें एडिटिंग, लिप सिंकिंग और स्पेशल इफेक्ट जैसे कई फीचर्स दिए गए हैं।



वहीं अब Snack Video एप पर भी प्रतिबंध लगाने की तैयारी चल रही है। सी-डीईपी के अध्यक्ष जयजीत भट्टाचार्य ने अपने एक बयान में कहा है कि यह एप प्रतिबंधित अनुप्रयोगों के समान जोखिम पैदा करता है और वर्तमान में प्रतिबंधित एप का नया नाम या रूप है। ऐसे में यह भारत सरकार के आदेशों का उल्लंघन है।



सेंटर ऑफ डिजिटल इकॉनमी पॉलिसी रिसर्च (C-DEP) ने इस संबंध में गृहमंत्री अमित शाह और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव राजेंद्र कुमार को एक पत्र भी लिखा है। पत्र में लिखा गया है कि स्नैक वीडियो एप के साथ भी सिक्योरिटी और प्राइवेसी का वही खतरा है जो बैन हुए एप के साथ है। ऐसे में स्नैक वीडियो एप भी किसी भी वक्त बैन लग सकता है।



आपको जानकर हैरानी होगी कि Snack Video एक चाइनीज एप है जिसे Kuaishou टेक्नोलॉजी ने इसी साल की शुरुआत में लॉन्च किया था। Kwai एप का संचालन भी यही कंपनी कर रही थी। बता दें कि Kuaishou चीन की बड़ी कंपनी है जिसके कई सारे एप दुनिया के कई देशों में हैं। इसमें टैनसेंट का भी पैसा लगा हुआ है।

0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें